Back

ⓘ रघुराम राजन भारतीय रिजर्व बैंकक २३ अम गभर्नर छी । ४ सितम्बर २०१३ के दुव्वुरी सुब्बारावक सेवानिवृत्तिक पश्चात रघुराम ई पदभार ग्रहण केनए अछि । ई पदसँ पहिने ओ प्रध ..




                                               

भारतीय रिजर्व बैंक

भारतीय रिजर्व बैंक भारतक केन्द्रीय बैंक छी । ई भारतक सभ बैंकक सञ्चालक छी । रिजर्व बैक भारतक अर्थव्यवस्थाक नियन्त्रित करैत अछि। एकर स्थापना १ अप्रैल सन् १९३५ क रिजर्व बैंक अफ इन्डिया ऐक्ट १९३४ क अनुसार भेल । प्रारम्भमे एकर केन्द्रीय कार्यालय कोलकातामे छल जे सन् १९३७ मे मुम्बईमे घसकाओल गेल । पहिने ई एक निजी बैंक छल किन्तु सन् १९४९ सँ ई भारत सरकारक उपक्रम बनल अछि । डा॰ रघुराम राजन भारतीय रिजर्व बैंकक वर्तमान गभर्नर छी, जे सितम्बर २०१३ क पदभार ग्रहण करने अछि ।

                                               

एचभिआर आयङ्गर

हूराव वरदराज आयंगर १ मार्च १९५७ से लके २८ फरवरी १९६२ तक भारतीय रिज़र्व बैंक के छठम गवर्नर छल। अपन नियुक्ति के पूर्व ओ भारतीय सिविल सेवा के सदस्य आर भारतीय स्टेट बैंक के अध्यक्ष रही चुकल अछी।

                                               

पिसी भट्टाचार्य

पी सी भट्टाचार्य १ मार्च १९६२ से लके ३० जून १९६७ तक भारतीय रिजर्व बैंक सातम गवर्नर छल। अपन पूर्ववर्तिसभ के विपरीत ओ भारतीय लेखा परीक्षा आर लेखा सेवा के सदस्य छल। गवर्नर के रूप मे नियुक्ति से पहिले ओ भारतीय स्टेट बैंक के अध्यक्ष आर वित्त मंत्रालय के सचिव के रूप मे सेवा केलक।

                                               

के जी अम्बेगाओङ्कर

के जी अम्बेगाओंकर १४ जनवरी १९५७ से लके २८ फरवरी १९५७ तक भारतीय रिज़र्व बैंक के पांचम गवर्नर छल। वह भारतीय सिविल सेवा के सदस्य छल आर भारतीय रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर के रूप मे अपन नियुक्ति से पहिले वित्त सचिव के रूप मे सेवा करि चुकल छल।

                                               

बिएन आदरकार

बी एन आदरकार ४ मई १९७० मे से १५ जून १९७० तक भारतीय रिज़र्व बैंक के ९अम गवर्नर छल। उनकर कार्यकाल केवल ४२ दिन क रहल, जे की अमिताभ घोष के बाद दोसर सबसे छोट छल। उनकर कार्यकाल एतए छोट ई कारण छल किया कि ओ एस जगन्नाथन के पदभार सम्हारे से पहिले केवल अंतरिम रूप से ई पद क भर रहल छल। अपन पूर्ववर्तिसभ के विपरीत, जे की भारतीय सिविल सेवा से छल, आदरकार एक अर्थशास्त्री छल आर भारत सरकार के आर्थिक सलाहकार के कार्यालय मे काम केलक। एहीसँ पहिले ओ वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय मे विभिन्न महत्वपूर्ण पदसभ क कार्यभार सम्हारि चुकल छल।

                                               

एलके झा

लक्ष्मी कांत झा जेकरा एल के झा के नाम से जानल जाएत छल, १ जुलाई १९६७ से लके ३ मई १९७० तक भारतीय रिज़र्व बैंक के आठम गवर्नर छल। भारतीय सिविल सेवा के १९३७ बैच के सदस्य झा आपूर्ति विभाग क उप सचिव क पद हासिल केलक। भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर के रूप मे उनकर नियुक्ति पहिले ओ प्रधानमंत्री के सचिव के रूप मे सेवा केलक। उनकर कार्यकाल मे महात्मा गांधी क जन्म शताब्दी के उपलक्ष्य मे २ अक्टूबर १९६९ के २, ५, १० आर १०० के मूल्यवर्ग के भारतीय नोट, जारी कएल गेल छल। ई नोटसभ पर उनकर हस्ताक्षर अछी, एकर बाद के नोटसभ क श्रृंखला पर बी एन आदरकार के हस्ताक्षर अछी।

                                               

बेनेगल रामा राव

सर बेनेगल रामा राव १ जुलाई १९४९ से लके १४ जनवरी १९५७ तक भारतीय रिज़र्व बैंक के चौथा गवर्नर छल। भारतीय सिविल सेवा मे शामिल होए के बाद एवं भारतीय रिजर्व बैंक के शामिल होए से पहिले ओ निम्न पदसभ पर कार्य केलक - मद्रास सरकार के उप सचिव 1919–1924 दक्षिण अफ्रीका मे भारत के उच्चायुक्त १९३८-१९४१ गोलमेज सम्मेलन के सचिव वित्त विभाग १९२५-१९२६ मे भारतीय कराधान समिति के सचिव लंदन मे भारत के उप उच्चायुक्त १९३४-१९३८ साइमन कमिशन १९२८-१९३० के वित्तीय सलाहकार उद्योग विभाग के संयुक्त सचिव संसद क संयुक्त प्रवर समिति मे भारतीय विधेयक १९३१-१९३४ वित्त विभाग १९२६-१९२८ मे उप सचिव

रघुराम राजन
                                     

ⓘ रघुराम राजन

रघुराम राजन भारतीय रिजर्व बैंकक २३ अम गभर्नर छी । ४ सितम्बर २०१३ के दुव्वुरी सुब्बारावक सेवानिवृत्तिक पश्चात रघुराम ई पदभार ग्रहण केनए अछि । ई पदसँ पहिने ओ प्रधानमन्त्री, मनमोहन सिंहक प्रमुख आर्थिक सल्लाहकार आ शिकागो विश्वविद्यालयक बुथ स्कुल अफ बिजनेसमे एरिक जे ग्लिचर फाइनान्सक गणमान्य सर्विस प्रोफेसर छल । सन् २००३ सँ सन् २००६ धरि ओ अन्तर्राष्ट्रिय मुद्रा कोषक प्रमुख अर्थशास्त्री आ अनुसन्धान निर्देशक आ भारतमे वित्तीय सुधार कऽ लेल योजना आयोगद्वारा नियुक्त समितिक नेतृत्व सेहो केलक ।

राजन मेसाचुसेट्स इन्स्टिच्युट अफ टेक्नोलोजीक अर्थशास्त्र विभाग आ स्लोन स्कुल अफ म्यानेजमेन्ट; नर्थवेस्टर्न विश्वविद्यालयक क्यालौग स्कुल अफ म्यानेजमेन्ट आ स्टकहोम स्कुल अफ इकोनोमिक्समे अतिथि प्रोफेसर सेहो रहल छल । ओ भारतीय वित्त मन्त्रालय, विश्व बैंक, फेडरल रिजर्व बोर्ड आ स्वीडिश संसदीय आयोगक सल्लाहकारक रूपमे सेहो काम केनए अछि । सन् २०११ मे ओ अमेरिकी फाइनान्स ऐसोसिएसनक अध्यक्ष छल तथा वर्तमान समयमे अमेरिकन एकेडेमी अफ आर्ट्स एन्ड साइन्सेजक सदस्य छी ।

                                     

1. प्रारम्भिक जीवन

रघुराम राजनक जन्म भारतक भोपाल शहरमे ३ फरबरी १९६३ के भेछल । सन् १९८५ मे ओ भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली सँ इलेक्ट्रिकल इन्जीनियरिङमे स्नातक डिग्री हासिल केलक । इन्डियन इन्स्टिच्युट अफ म्यानेजमेन्ट, अहमदाबाद सँ ओ सन् १९८७ मे एमबिए केनए छल । मेसाचुसेट्स इन्स्टिच्युट अफ टेक्नोलोजी सँ ओ सन् १९९१ मे अर्थशास्त्र विषयमे पिएचडी केलक ।

                                     

2. कैरियर

स्नातक स्तर धरि पढ़ाईक बाद राजन शिकागो विश्वविद्यालयक ग्रेजुएट स्कुल अफ बिजनेसमे शामिल भऽ गेल । सितम्बर २००३ सँ जनवरी २००७ धरि ओ अन्तर्राष्ट्रिय मुद्रा कोषमे आर्थिक सल्लाहकार आ अनुसन्धान निर्देशक मुख्य अर्थशास्त्री रहल । जनवरी २००३ मे अमेरिकन फाइनान्स एसोसिएशनद्वारा देल जाइवला फिशर ब्ल्याक पुरस्कारक प्रथम प्राप्तकर्ता छल । ई सम्मान ४० सँ कम उमर क अर्थशास्त्रीसभके वित्तीय सिद्धान्त आ अभ्यासमे योगदानक लेल प्रदान कएल जाइत अछि।

                                     
  • एक न ज ब क छल क न त सन स ई भ रत सरक रक उपक रम बनल अछ ड रघ र म र जन भ रत य र जर व ब कक वर तम न गभर नर छ ज स तम बर क पदभ र ग रहण
  • अक ट बर भ रत य र जर व ब कक वर तम न गभर नर छ स तम बर म रघ र म र जनक स व न व त त क पश च त उर ज त ई पद ग रहण क नए अछ एह स प र व जनवर
  • व कटरमनन - स र गर जन - ब मल ज ल न - व य व र ड ड - द व व र स ब ब र व - रघ र म र जन वर तम न
  •   ब मल ज ल न व इभ र ड ड द व व र स ब ब र व रघ र म र जन - उर ज त पट ल वर तम न
  • व कटरमनन - स र गर जन - ब मल ज ल न - व य व र ड ड - द व व र स ब ब र व - रघ र म र जन वर तम न
  • व कटरमनन - स र गर जन - ब मल ज ल न - व य व र ड ड - द व व र स ब ब र व - रघ र म र जन वर तम न
  • व कटरमनन - स र गर जन - ब मल ज ल न - व य व र ड ड - द व व र स ब ब र व - रघ र म र जन वर तम न
  • व कटरमनन - स र गर जन - ब मल ज ल न - व य व र ड ड - द व व र स ब ब र व - रघ र म र जन वर तम न

Users also searched:

...